एल्यूमीनियम पर कैसे पेंट करें:-1

एल्यूमीनियम पर कैसे पेंट करें-1
किसी भी मेटल को पेंट करना, ठीक किसी दूसरी सतह पर पेंट करने जैसा ही होता है। असली फर्क केवल पेंटिंग के लिए सर्फ़ेस को तैयार करने का होता है। जब आप जैसे ही आप एल्यूमीनियम को साफ, फिर सैंड और प्राइम कर लें, उसके बाद आप इसे भी ठीक उसी तरह से पेंट कर सकते हैं, जैसे आप किसी प्लास्टिक या लकड़ी को करते। ये पूरी प्रोसेस सिम्पल है, लेकिन क्योंकि आपको इसमें हर एक लेयर के सूखने और क्योर होने (प्राइमर, पेंट और सीलर) का इंतज़ार करना पड़ता है, इसलिए ये थोड़ी टाइम लेने वाली प्रोसेस हो सकती है। हालांकि, इसके बाद में मिलने वाले रिजल्ट्स से आपको आपकी मेहनत का पूरा फल मिल जाता है! प्रोजेक्ट को तैयार करना:- 1.एल्यूमीनियम को गुनगुने पानी और एक डिग्रीजिंग एजेंट से साफ करें: एक टब या बाल्टी में गुनगुना पानी भरें, फिर उसमें जरा सा डिग्रीजिंग क्लींजर एड करें। सलुशन में एक कपड़ा डालें, फिर उसे एल्यूमीनियम को पोंछने के लिए इस्तेमाल करें। बचे हुए अवशेषों को हटाने के लिए बाद में, एल्यूमीनियम को सादे पानी से धोएँ, फिर एक साफ कपड़े से सुखाएँ। होम इंप्रूवमेंट स्टोर से डिग्रीजिंग खरीदें। डिश सोप भी एक और अच्छा ऑप्शन है।अगर आप पुराने पेंट को निकालना चाहते हैं, तो इस स्टेप को स्किप कर दें। प्रोसेस में यूज होने वाले केमिकल्स मेटल को साफ करने में मदद करेंगे। 2.एक पेंट स्ट्रिपर से पुराने पेंट को हटाएँ: पेंट स्ट्रिपर के साथ में आए इन्सट्रक्शन को फॉलो करें, क्योंकि हर एक ब्रांड के लिए ये एक-दूसरे से थोड़ा अलग होते हैं। ज़्यादातर मामलों में, आप सलुशन को मेटल पर डालेंगे, कुछ मिनट इंतज़ार करेंगे, फिर एक पेंट स्क्रेपर से उसे स्क्रेप करके निकाल देंगे।पेंट स्ट्रिपर के बचे हुए अवशेषों को हटाने के लिए एक “ऑफ्टर वॉश (after wash)” यूज करें। इसे भी होम इंप्रूवमेंट स्टोर में आप पेंट स्ट्रिप के साथ ही पाएंगे।इसके बाद सर्फ़ेस को सादे पानी से धोएँ, फिर एक साफ कपड़े से सुखाएँ। 3.गुनगुने पानी, डिग्रीजर और एक वायर ब्रश से स्क्रेप करके जंग को साफ करें: पानी और कुछ पंप डिग्रीजर से बने सलुशन से मेटल को गीला करें। एक वायर ब्रश की मदद से जंग वाले भाग को स्क्रब करें, फिर सादे पानी से धोकर उस सर्फ़ेस को साफ करें। एक साफ कपड़े की मदद से बाद में सर्फ़ेस को सुखाएँ।वैकल्पिक रूप से, आप जंग निकालने के लिए बने स्पेशल प्रॉडक्ट यूज कर सकते हैं; अपने लोकल होम इंप्रूवमेंट स्टोर में चेक करें।जंग को लगा न रहने दें, क्योंकि ये पेंट को सही तरह से चिपकने से रोक देगी। 4.सेफ़्टी गॉगल्स, वर्क ग्लव्स और एक डस्ट मास्क पहनें: ये बहुत जरूरी है, सैंड करने से धूल के छोटे-छोटे पार्टिकल्स हवा में पहुँच जाएंगे। मेटल सैंडिंग की डस्ट निश्चित रूप से एक ऐसी चीज है, जिसे आप साँस के जरिए अंदर नहीं लेना चाहेंगे।सभी डस्ट मास्क को एक-समान रूप से नहीं तैयार किया जाता है। जब आप डस्ट मास्क खरीदने जाएँ, तब ध्यान देकर उसके सैंडिंग डस्ट के लिए इस्तेमाल किए जाने लायक होने की पुष्टि करें। 5.मेटल को मोटे-ग्रिट और फ़ाइन-ग्रिट सैंडपेपर से सैंड करें: एक स्मूद, सर्कुलर मोशन का और 80- या 100-ग्रिट सैंडपेपर का इस्तेमाल करके पूरी सर्फ़ेस को बफ करें। एक टैक क्लॉथ से डस्ट को पोंछें, फिर उसे एक बार फिर से 400-ग्रिट सैंडपेपर के साथ में बफ करें।आप चाहें तो दूसरे बार में 400 से ज्यादा ग्रिट यूज कर सकते हैं।अगर 80- या 100- ग्रिट सैंडपेपर से गहरे निशान आ रहे हैं, तो फिर 400 ग्रिट यूज करने से पहले 200- और 300- ग्रिट सैंडपेपर को यूज करें।मेटल को सैंड करने से प्राइमर को उस पर चिपकने लायक जगह मिल जाती है। 6.गुनगुने पानी और डिग्रीजर से एक बार फिर से सर्फ़ेस को धोएँ: अपने टब या बाल्टी को एक बार फिर से गुनगुने पानी से भरें, फिर उसमें डिग्रीजिंग क्लीनर की थोड़ी मात्रा एड करें। मेटल को इसी सलुशन से धोएँ, फिर इसे एक बार फिर से सादे पानी से धोएँ। आगे बढ़ने से पहले मेटल को हवा में सूखने दें।ऐसा इसलिए जरूरी है, क्योंकि इससे बची रह गई सैंडिंग डस्ट भी निकल जाएगी, जो आपके पेंट को परफेक्ट बनने से रोक सकती थी।वैकल्पिक रूप से, आप चाहें तो एक टैक क्लॉथ से भी मेटल को पोंछकर साफ कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.